01 Dec 2020, 07:41 HRS IST
  • केरल:सबरीमला में कई लोग कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आए
    केरल:सबरीमला में कई लोग कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आए
    राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल श्रीलंका पहुंचे
    राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल श्रीलंका पहुंचे
    पुडुचेरी के निकट पहुंचा ‘निवार’
    पुडुचेरी के निकट पहुंचा ‘निवार’
    बहुत जल्दी छोड़कर चले गए माराडोना
    बहुत जल्दी छोड़कर चले गए माराडोना
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • मोर्गन और होल्डर ने कहा, बायो बबल में अधिक समय बिताने से अत्यधिक थकान हो सकती है

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 12:57 HRS IST

अबु धाबी, 20 अक्टूबर (भाषा) इयोन मोर्गन और जेसन होल्डर ने खिलाड़ियों के लंबे समय तक जैविक रूप से सुरक्षित माहौल (बायो बबल) में रहने पर अंदेशा जताते हुए चेतावनी दी है कि इससे ‘बेहद अधिक थकान’ हो सकती है।

मोर्गन और होल्डर पिछले कुछ महीनों में इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के जैविक रूप से सुरक्षित माहौल का भी हिस्सा रहे हैं।

ईएसपीएनक्रिकइंफो ने मोर्गन के हवाले से कहा, ‘‘हम गर्मियों में अपने अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों को पूरी तरह आयोजित कराने में सफल रहे। यह टीमों के लिए अविश्वसनीय उपलब्धि है और ईसीबी ने शानदार प्रतिबद्धता दिखाई। हम बेहद भाग्यशाली हैं कि हमें दोबारा खेलने का मौका मिला।’’

इंग्लैंड के सीमित ओवरों के कप्तान मोर्गन ने हालांकि कहा कि खिलाड़ी काफी लंबा समय जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में बिताने की उम्मीद नहीं करते।

मोर्ग ने कहा, ‘‘लेकिन इस बायो बबल को 12 महीने या 12 में से 10 महीने जब हम यात्रा करते हैं तब तक बनाए रखना व्यावहारिक नहीं है। आप खिलाड़ी को मानसिक और शारीरिक दोनों तरह से थका रहे हैं और यह बेहद थकान भरा हो सकता है जो कोई नहीं देखना चाहता। ’’



इंग्लैंड में वेस्टइंडीज की अगुआई करने वाले होल्डर भी मोर्गन से सहमत दिखे।

होल्डर ने कहा, ‘‘यह काफी चुनौतीपूर्ण है। मैं भाग्यशाली हूं कि अब भी काम कर रहा हूं। दुनिया में काफी लोग हैं जो कोविड महामारी के कारण काम नहीं कर पा रहे हैं। हमें अब भी लोगों का मनोरंजन करने और ऐसा करने का मौका मिल रहा है जो हमें पसंद है।’’



उन्होंने कहा, ‘‘खिलाड़ियों की मानसिक हालत को देखते हुए व्यस्तता कम करने के लिए कुछ सोचे जाने की जरूरत है।’’



मोर्गन ने भी कहा कि इसके कारण भविष्य में और अधिक खिलाड़ी दौरों से हट सकते हैं।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।