16 Jan 2021, 12:18 HRS IST
  • नाइक की हालत में काफी सुधार
    नाइक की हालत में काफी सुधार
    टेस्ट क्रिकेट में 6 हजार रन पूरे करने वाले 11वें भारतीय बने पुजारा
    टेस्ट क्रिकेट में 6 हजार रन पूरे करने वाले 11वें भारतीय बने पुजारा
    पीजीए चैंपियनशिप ने डोनाल्ड ट्रंप से नाता तोड़ा
    पीजीए चैंपियनशिप ने डोनाल्ड ट्रंप से नाता तोड़ा
    कोविड-19 के दौरान किसानों के जमावड़े पर न्यायालय चिंतित
    कोविड-19 के दौरान किसानों के जमावड़े पर न्यायालय चिंतित
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • देवघर में 12 साइबर ठग गिरफ्तार

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 23:19 HRS IST

देवघर, 14 जनवरी (भाषा) झारखंड में देवघर पुलिस ने 12 कथित साइबर ठगों को गिरफ्तार किया है। वे बैंक अधिकारी बन लोगों को फोन करके उनके साथ कथित रूप से ठगी करते थे।

देवघर के पुलिस अधीक्षक अश्विनी कुमार सिन्हा ने बृहस्पतिवार को बताया कि पुलिस ने 12 साइबर ठगों को गिरफ्तार किया है।

उन्होंने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर बुधवार रात जिले के कई इलाकों में छापेमारी की गई थी जिसके बाद ये गिरफ्तारियां की गई हैं।

सिन्हा ने बताया कि आरोपियों के पास से 16 मोबाइल, 20 सिम कार्ड, आठ एटीएम, पांच पासबुक, पांच चेकबुक, एक पीओएस मशीन और 46000 रुपये नकद बरामद किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि आरोपी फर्जी बैंक अधिकारी बनकर लोगों को फोन करते थे और केवाईसी करने एवं अन्य तरीकों से उनका ओटीपी प्राप्त कर उनके खाते से पैसे निकाल लिया करते थे।

आरोपियों की पहचान सूरज मंडल(19), अली अकबर (28), प्रकाश मंडल(31), , कलीम अंसारी(32), उपेश राणा(25), अमर कुमार दास(19), आकाश कुमार दास(19), नीतीश कुमार दास(26), विवेक कुमार दास(22), दीपक कुमार दास(19), मनोज कुमार यादव(28) और जितेंद्र कुमार मिर्धा(22) के तौर पर हुई है।

सिन्हा ने बताया कि नौ जनवरी को सूचना मिली थी कि राजस्थान के भिवंडी में वरिष्ठ प्राशासनिक अधिकारी के ससुर के साथ फोन के जरिए ठगी की गई है। इस संबंध में भिवंडी में एक मामला दर्ज किया गया था जिसमें अभियुक्त का स्थान देवघर जिले में पाया गया था।

उन्होंने बताया कि इस मामले में देवघर पुलिस ने तकनीकी साक्ष्यों के आधार पर त्वरित कार्रवाई करते हुए अभियुक्त सूरज मंडल को गिरफ्तार कर लिया और अपराध में प्रयुक्त मोबाइल बरामद कर लिया।

पुलिस अधीक्षक ने दावा किया कि उसने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। पुलिस उसके साथियों को पकड़ने के लिए देवघर एवं जामताड़ा में छापेमारी कर रही है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।