06 Jul 2022, 15:56 HRS IST
  • महाराष्ट्र में भारी बारिश के कारण पवई झील उफान पर
    महाराष्ट्र में भारी बारिश के कारण पवई झील उफान पर
    प्रधानमंत्री ने श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की
    प्रधानमंत्री ने श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की
    भोपाल में स्थानीय निकाय चुनाव का दृश्य
    भोपाल में स्थानीय निकाय चुनाव का दृश्य
    उत्तर प्रदेश बीएड परीक्षा 2022
    उत्तर प्रदेश बीएड परीक्षा 2022
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • अबू धाबी की आईएचसी ने अडाणी समूह की कंपनियों में किया 15,400 करोड़ रुपये का निवेश

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 15:49 HRS IST

नयी दिल्ली, 17 मई (भाषा) अबू धाबी की इंटरनेशनल होल्डिंग कंपनी पीजेएससी (आईएचसी) ने अडाणी समूह की तीन कंपनियों में प्राथमिक पूंजी के तौर पर 15,400 करोड़ रुपये का निवेश किया है।

अडाणी ग्रुप ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि उसकी कंपनियों- अडाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एजीईएल), अडाणी ट्रांसमिशन लिमिटेड (एटीएल) और अडाणी एंटरप्राइजेज लिमिटेड (एईएल) में आईएचसी ने यह निवेश किया है।

अडाणी ग्रुप के मुताबिक, एईएल में सर्वाधिक 7,700 करोड़ रुपये और एजीईएल एवं एटीएल दोनों में 3,850-3,850 करोड़ रुपये का निवेश पूरा हो गया है।

हालांकि, अडाणी समूह ने यह नहीं बताया है कि इस निवेश के बदले में आईएचसी को इन तीनों कंपनियों में कितनी हिस्सेदारी मिलने वाली है।

आईएचसी ने अडाणी समूह की कंपनियों में पूंजी निवेश तरजीही आवंटन के माध्यम से किया है।

आईएचसी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी एवं प्रबंध निदेशक सैयद बसर शुएब ने कहा, ‘‘हमारे कारोबार का यह रणनीतिक विस्तार अपने निवेश पोर्टफोलियो का दायरा बढ़ाने एवं विविधता लाने की प्रतिबद्धता के अनुकूल है।’’

उन्होंने कहा कि यह सौदा भारत एवं संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के बीच के कुल व्यापार के 4.87 प्रतिशत हिस्से को दर्शाता है। वर्ष 2021 में भारत-यूएई का द्विपक्षीय व्यापार 41 अरब डॉलर रहा।

बयान के मुताबिक, आईएचसी के निवेश से अडाणी ग्रुप की वृद्धि योजना को मजबूती मिलेगी और यह वर्ष 2030 तक 45 गीगावॉट बिजली की आपूर्ति करने की स्थिति में होगा।

एजीईएल के कार्यकारी निदेशक सागर अडाणी ने कहा कि यह लेनदेन भारत एवं यूएई के संबंधों के और मजबूत होने को दर्शाता है।



  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में