18 Dec 2017, 17:44 HRS IST
  • दुर्घटनावश कुएं में गिर अचेत तेंदुआ
    दुर्घटनावश कुएं में गिर अचेत तेंदुआ
    पार्वती घाटी में भारी बर्फवारी का नजारा
    पार्वती घाटी में भारी बर्फवारी का नजारा
    हमदाबाद : गुजरात चुनाव के अवसर पर मतदाताओं की भीड
    हमदाबाद : गुजरात चुनाव के अवसर पर मतदाताओं की भीड
    अहमदाबाद : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वोट डालने के बाद
    अहमदाबाद : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वोट डालने के बाद
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम प्रेस विज्ञप्ति व्याप्त प्रेस विज्ञप्ति
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
  • प्रेस विज्ञप्ति


स्रोत: Hockey India Asianet 68899
श्रेणी: Sport
हॉकी इंडिया की पुरुष व महिला टीम ने ‘गेम-चेंजिंग’ 2019 हॉकी प्रो लीग में भाग लेने की पुष्टि की।
12/06/2017 6:36:08:670PM

 


पीडब्ल्यूआरएक

पीआरनंबर 68899

हाॅकी इंडिया एक लुसाने

संपादक- यहविज्ञप्तिआपकोएशियानेटकेसाथसंपन्नहुईव्यवस्थाकेतहतप्रेषितकीजारहीहै।पीटीआईपरइसकाकोईसंपादकीयउत्तरदायित्वनहींहै।

एफआईएचमीडियारिलीज



हॉकी इंडिया की पुरुष महिला टीम ने गेम-चेंजिंग’ 2019 हॉकी प्रो लीग में भाग लेने की पुष्टि की।

http://mma.prnewswire.com/media/521797/FIH_Logo.jpg

        भारतकीपुरुष व महिला राष्ट्रीय टीम ने एक नयी व अनूठी वैश्विक लीग में भाग लेने की पुष्टि की है।

        प्रतियोगिता का आधिकारिक नाम 'हॉकी प्रो लीग' रखा गयाहै।

        दर्शकों से खचाखच भरे स्टेडियम घर पर हॉकी के स्वागत को तैयार हैं

        नयी लीग 'आने वाले अनेक वर्षों तक हॉकी को बढ़ावा देने के लिए' डिजाइन की गई है

 

लुसाने, स्विटजरलैंड 12 जून 2017

: इंटरनेशनल हॉकी फेडरेशन (एफआईएच) ने पुष्टि की है कि भारत की राष्ट्रीय पुरुष व महिला टीमें (एफआईएच हीरो वर्ल्ड रैंकिंग: 6 व 12) हॉकी प्रो लीग में भाग लेंगी जोकि अंतरराष्ट्रीय टीमों के बीच खेली जाने वाली एक अनूठी वैश्विक खेल लीग है।

 

यह नयी लीग जनवरी 2019 में शुरू होने जा रही है जिसमें दुनियाभर की सर्वश्रेष्ठ नौ पुरुष व महिला टीमें हर साल घरेलू व विदेशी मैदानों पर एक दूसरे के खिलाफ मैच खेलेंगी। कुल 144 मैच होंगे। ये मैच जनवरी से जून तक हर सप्ताह राष्ट्रीय स्टेडियमों में खेले जाएंगे।

 

भारतीय टीम जोकि दुनिया की सर्वश्रेष्ठ पुरुष टीमों में एक है वह अर्जेंटीना, आस्ट्रेलिया, बेल्जियम, इंग्लैंड/ ब्रिटेन, जर्मनी, नीदरलैंड, न्यूजीलैंड व पाकिस्तान के साथ टक्कर लेगी। पाकिस्तान के घरेलू मैच स्काटलैंड में होंगे।



 

भारत की पुरुष हॉकी टीम बीते कई साल से खुद के पुनर्निर्माण में लगी है और उसकी इस मेहनत के प्रयास भी दिखाई देने लगे हैं। 2016 एशियन हॉकी चैंपियंस ट्राफी में स्वर्ण पदक के बाद उसी साल लंदन में हॉकी चैंपियंस ट्राफी में रजत पदक जीता। और भविष्य बेहतर हाथों में है क्योंकि भारत ने 2016 जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप जीता, फाइनल में बेल्जियम को हराते हुए।

 

महिला टीम भी जानती है कि जीत का क्या मतलब होता है। साल 2002 में भारतीय महिलाओं ने कामनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक जीता और इस जीत तक पहुंचने से पहले कहीं अधिक रैंक वाली आस्ट्रेलिया व इंग्लैंड को हराया।

 

महिला टीम तेजी से आगे बढ़ रही है। एंटवर्प में हॉकी वर्ल्ड लीग के सेमीफाइनल में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद टीम ने  2016  के ओलंपिक गेम्स के लिए क्वालीफाई किया। इस टीम ने 2016 एशिया हॉकी चैंपियंस ट्राफी में भी स्वर्ण पदक जीता।

 

भारत की महिला टीम अर्जेंटीना, आस्ट्रेलिया, चीन, इंग्लैंड/ ब्रिटेन, जर्मनी, नीदरलैंड, न्यूजीलैंड व अमेरिका के साथ मैच खेलेगी।



इन टीमों की घोषणा प्रत्याशियों की कड़ी प्रतिस्पर्धी आकलन के बाद की गई। इस प्रक्रिया में 13 पुरुष व 12 महिला टीमों ने अपनी अपनी राष्ट्रीय एसोसिएशन के जरिए आवेदन किया।



एफआईएच कार्यकारी बोर्ड की मंजूरी के बाद इन टीमों की पुष्टि की गई। इनका फैसला एफआईएच इवेंट पोर्टफोलियो इंपलीमेंशन पैनल (ईपीआईपी) की सिफारिशों पर आधारित रहा। ईपीआईपी से तय भागीदारी दायरे के तहत हर उम्मीदवार का आकलन करने को कहा गया था।



इस समाचार के बारे में बात करते हुए एफआईएच के सीईओ जेसन मैकरेकन ने कहा: "हमें इस गेम-चेंजिंग नयी प्रतियोगिता के आधिकारिक नाम व भाग लेने वाली टीमों की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। टीमों के वर्ल्ड टूर व किसी एक जगह पर अंतरराष्ट्रीय लीग तो नियमित रूप से होते रहते हैं लेकिन यह निश्चित रूप से अपनी तरह की पहली प्रतियोगिता है जिसमें राष्ट्रीय टीमें हर साल छह महीने तक घरेलू व विदेशी मैदानों पर मैच खेलेंगी। हॉकी प्रो लीग की तैयारी चार साल से हो रही है और इसके लिए व्यापक विचार विमर्श व आकलन प्रक्रिया अपनाई गई है।"



 

उन्होंने आगे कहा: "हमें पूरा विश्वास है कि इस नयी प्रतिस्पर्धा से आने वाले अनेक वर्षों में हमारे खेल की वृद्धि को बल मिलेगा, और साथ ही हॉकी के लिए राजस्व में महत्वपूर्ण बढ़ोत्तरी होगी। इसके परिणाम से एथलीट हॉकी को करियर के रूप में चुनने के लिए प्रोत्साहित होंगे जिन्हें घरेलू व विदेशों में बड़े, विशाल, व दर्शकों से खचाखच भरे मैदानों में अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा। इसके साथ ही प्रशंसको के लिए भी टीवी पर या अपने नेशनल स्टेडियमों में लाइव और अधिक विश्व स्तरीय हॉकी देखने व उससे जुड़ने के अधिक अवसर सुलभ होंगे। अब हम वास्तव में एक अनूठी लीग आयोजित करने के लिए काम करेंगे इसके साथ ही हम यह भी सुनिश्चित करेंगे कि हम खेल के सभी स्तरों पर हमारी अन्य प्रतिस्पर्धाओं के मानक व प्रोफाइल बेहतर करें।"



एफआईएच के अध्यक्ष, डानरिंदर ध्रुव बत्रा ने कहा: "हॉकी प्रो लीग हॉकी में होने वाली क्रांति के पहले बड़े माइलस्टोन को परिलक्षित करती है। इसमें हमारी दसवर्षीय रणनीति का वह सब कुछ शामिल है जिसके जरिए हम हॉकी को एक वैश्विक खेल बनाना चाहते हैं जो अगली पीढ़ी को प्रेरणा दे। हालांकि हर लीग के लिए केवल नौटी में ही चुनी गई हैं लेकिन बाहर रहे प्रतिभागियों के उत्साह व समाचारों से तो यही संकेत मिलता है कि हमारा खेल बहुत ही सकारात्मक दिशा में विकसित हो रहा है जो कि स्पष्ट रूप से दिखाता है कि हॉकी का भविष्य बहुत ही उज्ज्वल है।"



हॉकी प्रो लीग से जुड़ी और जानकारी, प्रसारण भागीदारों, कार्यक्रम से जुड़े तथा अन्य समाचार आने वाले महीनों में FIH.ch पर प्रकाशित किए जाएंगे। इसके साथ ही ये FIH (एफआईएच) Twitter, Facebook तथा Instagram के जरिए भी लिए जा सकते हैं।



इति



संपादकों के लिए नोट



हॉकी प्रो लीग एफएक्यू: http://www.fih.ch/news

आधिकारिक लांच वीडियो डाउनलोड करें: http://bit.ly/2rZjV7V

साक्षात्कार

एफआईएच सीईओ से साक्षात्कार के लिए कृपया संपर्क करें:

डैनी पार्कर, कम्युनिकेशंस मैनेजर

daniel.parker@fih.ch

+41 (0) 79 619 77 24



इंटरनेशनल हॉकी फेडरेशन (एफआईएच) के बारे में

इंटरनेशनल हॉकी फेडरेशन (एफआईएच) हॉकी खेल के लिए अंतरराष्ट्रीय संचालन निकाय है। यह इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी (आईओसी) द्वारा मान्यता प्राप्त है। 1924 में स्थापित एफआईएच की इस समय 137 नेशनल एसोसिएशन सदस्य हैं। हॉकी रेवोल्यूशन के बारे में और अधिक जानकारी के लिए कृपया यहाँ जाएं: fih.ch/inside-fih/our-strategy



नेशनल एसोसिएशन संपर्क:

हॉकी इंडिया


media@wordswork.in

+91 11 4606 4141


पीआरन्यूजवायर- एशियानेटः रंजन
संपर्क:
मीडिया संपर्क विवरण:
 Bookmark with:   Delicious |  Digg |  Reditt |  Newsvine
    • arrow  प्रेस विज्ञप्ति
  • pti