17 Nov 2019, 12:51 HRS IST
  • सबरीमला मामला- न्यायालय ने पुनर्विचार के लिए समीक्षा याचिकाएं सात न्यायाधीशों की पीठ के पास भेजी
    सबरीमला मामला- न्यायालय ने पुनर्विचार के लिए समीक्षा याचिकाएं सात न्यायाधीशों की पीठ के पास भेजी
    करतारपुर गलियारे का इस्तेमाल करने वाले भारतीयों सिखों के लिये पासपोर्ट जरूरी नहीं - पाक
    करतारपुर गलियारे का इस्तेमाल करने वाले भारतीयों सिखों के लिये पासपोर्ट जरूरी नहीं - पाक
    झारखंड में पांच चरणों में मतदान, 23 दिसंबर को मतगणना
    झारखंड में पांच चरणों में मतदान, 23 दिसंबर को मतगणना
    आईएसआईएस का सरगना बगदादी अमेरिकी हमले में मारा गया: ट्रंप
    आईएसआईएस का सरगना बगदादी अमेरिकी हमले में मारा गया: ट्रंप
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम प्रेस विज्ञप्ति व्याप्त प्रेस विज्ञप्ति
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
  • प्रेस विज्ञप्ति


स्रोत: Global Silicones Council
श्रेणी: General
जीएससी ने कनाडा द्वारा सिलोक्जेंस के ए रिस्क आधारित मूल्यांकन का स्वागत किया
07/08/2019 6:48:45:113PM

जीएससी ने कनाडा द्वारा सिलोक्जेंस के ए रिस्क आधारित मूल्यांकन का स्वागत किया 


वाशिंगटन, 6 अगस्त, 2019, पीआरन्यूजवायर— एशियानेट। 


— नियामकों ने पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य के लिए एल2, एल4, एल5 और डी3 पोज के निम्न जोखिम का निष्कर्ष निकाला 

ग्लोबल सिलिकान्स काउंसिल (जीएससी)


के सदस्यों ने एल2, एल4, एल5 और डी3 (1) समेत सिलिकॉन मैटेरियल्स की रेंज के कनाडा के मसौदा जोखिम मूल्यांकन का स्वागत किया है। कनाडा के पर्यावरण मंत्री और स्वास्थ्य मंत्री ने निष्कर्ष निकाला है कि ये सिलोक्जेंस पर्यावरण में उतनी मात्रा या सांद्रता या उन स्थितियों में प्रवेश नहीं कर रहे हैं जिनसे पर्यावरण या मानव स्वास्थ्य को कोई खतरा हो। लिहाजा कनाडा ने इन मैटेरियल्स के किसी तरह के इस्तेमाल पर कोई नियामक पाबंदी नहीं लगाई है। 


जीएससी के कार्यकारी निदेशक कार्लस थॉमस ने कहा, 'जीएससी जोखिम आधारित, साक्ष्यों के महत्व के इस्तेमाल की प्रतिबद्धता का समर्थन करती है जब इसने केमिकल्स का मूल्यांकन करते हुए निष्कर्ष निकाला है कि ए2, एल4, एल5 और डी3 का पर्यावरण या मानव स्वास्थ्य पर कोई खतरा नहीं है। कनाडा का यह निष्कर्ष इसी बात की फिर पुष्टि करता है जिसकी कई स्वतंत्र वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों ने पहले ही पुष्टि कर चुके हैं— वैज्ञानिक शोध और परीक्षण सिलिकॉन के विविध और महत्वपूर्ण अनुप्रयोगों की सुरक्षा दर्शाते हैं और बताते हैं कि इन मैटेरियल्स पर किसी तरह की नियामक पाबंदी की वारंटी नहीं है।' 

कनाडा में एल2, एल4, एल5 और डी3 का मुख्य रूप से इस्तेमाल कॉस्मेटिक, इलेक्ट्रॉनिक, मेडिकल डिवाइस, एडहेसिव और सीलेंट्स जैसे कई सारे उत्पादों में किया जाता है और साथ ही इसका इस्तेमाल पेंट्स तथा कोटिंग जैसे कई औद्योगिक अनुप्रयोगों में किया जाता है। कनाडाई प्रशासन ने जोखिम आधारित उपाय का इस्तेमाल करते हुए इन मैटेरियल्स के पारिस्थितिकी और स्वास्थ्य जोखिम का दोष—गुण बताया है, जो जोखिम वर्गीकरण के निर्धारण के लिए कई तरह के साक्ष्यों के महत्वपूर्ण विचारों पर आधारित है। कोई भी मैटेरियल कनाडाई पर्यावरण सुरक्षा अधिनियम के लिए किसी मानक से मेल नहीं खाते हैं और इसलिए कोई भी नियामक कार्यवाही जरूरी नहीं है। 

कनाडाई नियामकों ने डी4, डी5, डी6 और एल3 समेत कई सारे अन्य सिलिकॉन मैटेरियल का पहले भी मूल्यांकन किया है। सभी संबंधित विज्ञापन की संपूर्ण समीक्षा के बाद कनाडा ने किसी उत्पाद के लिए डी4, डी5, डी6 या एल3 के इस्तेमाल पर किसी तरह का प्रतिबंध या सांद्रता आधारित प्रतिबंध नहीं लगाया है।

थॉमस ने कहा, 'आॅस्ट्रेलिया


और कनाडा


के डी4, डी5, डी6, (2) और एल3 के पूर्ववर्ती मूल्यांकन के साथ साथ इन सिलोक्जेंस का कनाडाई मूल्यांकन फिर बताता है कि ये तत्व मानव स्वास्थ्य या पर्यावरण को नुकसान पहुंचाए बिना उचित अनुप्रयोगों में सुरक्षित तरीके से इस्तेमाल किए जा सकते हैं। हम विश्व के नियामकों से लगातार अनुरोध करते आ रहे हैं कि क्लिनिकल मूल्यांकन के लिए आॅस्ट्रेलिया और कनाडा के जोखिम आधारित पहल को अपनाएं। चूंकि महत्वपूर्ण लाभ के कारण ये तत्व उपभोक्ताओं और समाज को दिए जाते हैं, लिहाजा जरूरी है कि कोई भी नियामक निर्धारण वास्तविकता की दुनिया के परीक्षण और सभी उपलब्ध संबंधित वैज्ञानिक आंकड़ों पर आधारित हो। रासायनिक प्रबंधन मुद्दों पर कनाडा का नेतृत्व लगातार यह दर्शाता है कि नियामक पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य की एक साथ सुरक्षा कर सकते हैं जबकि उत्पाद नवाचार को प्रोत्साहित कर सकते हैं।'

ये सिलिकॉन तत्व सिलिकॉन पॉलीमर की व्यापक रेंज निर्मित करने के लिए इस्तेमाल होने वाले महत्वपूर्ण बिल्डिंग ब्लॉक हैं जो विशेष उत्पाद परफॉर्मेंस गुण देते हैं और जिनसे हजारों ऐसे उत्पाद बनाने में नवाचार आता है जो वैश्विक अर्थव्यवस्था के प्रमुख क्षेत्रों को लाभ देते हैं, इनमें परिवहन


भवन और निर्माण


स्वास्थ्य सेवा


वैकल्पिक ऊर्जा टेक्नोलॉजीज


और इलेक्ट्रॉनिक्स


शामिल हैं। इन सेक्टरों में अगर हैं भी बहुत कम ही सिलिकॉन पॉलीमर के संतोषजनक विकल्प हैं। 

अधिक जानकारी के लिए अक्सर पूछे जाने वाले इन सवालों को देखें



या देखें


ग्लोबल सिलिकोंस काउंसिल (जीएससी) एक गैर—लाभकारी, अंतरराष्ट्रीय संस्था है जो विश्व में सिलिकॉन उत्पादों का निर्माण और बिक्री करने वाली कंपनियों का प्रतिनिधित्व करती है। जीएससी सभी बड़ी वैश्विक निर्माता कंपनियों को उत्तरी अमेरिका (सिलिकोंस एनवायरनमेंटल, हेल्थ एंड सेफ्टी सेंटर—एसईएचएससी), यूरोप (सिलिकोंस यूरोप—सीईएस) और जापान (सिलिकोंस इंडस्ट्री एसोसिएशन आॅफ जापान—एसआईएजे) में मौजूद तीन क्षेत्रीय सिलिकॉन उद्योग संगठनों के जरिये एकजुट करती है और उनके परस्पर सहयोग और साझेदारी को प्रोत्साहित करती है। 

जीएससी का उद्देश्य वैश्विक स्तर पर सिलिकॉन के सुरक्षित इस्तेमाल और प्रबंधन को बढ़ावा देना है। अपने  इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए जीएससी निम्नलिखित गतिविधियां संचालित करती है: 

— इन तीन क्षेत्रीय सिलिकॉन उद्योग संगठनों (आरएसआईए) की पर्यावरण, स्वास्थ्य और सुरक्षा गतिविधियों की निगरानी करना तथा वैश्विक आधार पर इस तरह की गतिविधियों में समन्वय स्थापित करना। 

— विश्व के नियामक संगठनों और विश्व स्वास्थ्य संगठन, आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन तथा संयुक्त राष्ट्र जैसे अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण, स्वास्थ्य एवं सुरक्षा संगठनों के साथ औद्योगिक संवाद को सक्रियतापूर्वक बढ़ावा देना। 

— आरएसआईए के जरिये सिलिकॉन से संबंधित पर्यावरण, स्वास्थ्य और सुरक्षा शोध को बढ़ावा देने के लिए अवसरों की पहचान और आकलन करना तथा औद्योगिक उत्पादन प्रबंधन क्षमता का संवाद स्थापित करने के लिए वैश्विक परियोजनाओं के साथ जुड़ना। 

—आरएसआईए के जरिये सिलिकॉन के लाभ और सुरक्षा की सार्वजनिक समझ विकसित करने के लिए परियोजनाओं को प्रायोजित करना

[1]

L2  हेक्सामिथाइलडाईसिलोक्सेन 

L4  डीकैमेथीटेट्रासिलोक्सेन

L5  डोडिकैमेथाइलपेंटासिलोक्सेन 

D3  साइक्लोट्रीसिलोक्सेन 

[2]

D4  आॅक्टामिथाइलटेट्रासाइक्लोसिलोक्सेन 

D5 डिकैमेथाइलपेंटासाइक्लोसिकलोक्सेन 

D6 डोडिकैमेथाइलसाइक्लाहेक्सासिलोक्सेन

स्रोत: ग्लोबल सिलिकोंस काउंसिल

संपादक : यह विज्ञप्ति आपको एशियानेट के साथ हुए समझौते के तहत प्रेषित की जा रही है। पीटीआई पर इसका कोई संपादकीय उत्तरदायित्व नहीं है।
संपर्क:
मीडिया संपर्क विवरण:
कार्लस थॉमस, ईमेल:kthomas@globalsilicones.com
 Bookmark with:   Delicious |  Digg |  Reditt |  Newsvine
    • arrow  प्रेस विज्ञप्ति
  • pti