31 Mar 2020, 13:36 HRS IST
  • प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली
    पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम प्रेस विज्ञप्ति व्याप्त प्रेस विज्ञप्ति
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
  • प्रेस विज्ञप्ति


स्रोत: Foundation for a Smoke-Free World
श्रेणी: Medical and Health Care
छोड़ने के विकल्प के बारे में भ्रम वैश्विक स्तर पर 1 बिलियन धूम्रपान करने वालों के स्वास्थ्य को प्रभावित करता है
12/03/2020 11:17:02:427AM
छोड़ने के विकल्प के बारे में भ्रम वैश्विक स्तर पर 1 बिलियन धूम्रपान करने वालों के स्वास्थ्य को प्रभावित करता है

वर्तमान और पूर्व धूम्रपान करने वालों और हानिकारक कमी उत्पाद उपयोगकर्ताओं के नए वैश्विक सर्वेक्षण से पता चला कि संभावित कार्सिनोजेन के रूप में निकोटीन के बारे में व्यापक गलतफहमी है, जो देश भर में छोड़ने के प्रयास में अंतराल का विस्तार करती हैं

न्यू यॉर्क, मार्च 12, 2020, पीआरन्यूजवायर— एशियानेट।

 – Foundation for a Smoke-Free World (FSFW) ( https://www.smokefreeworld.org/ ) द्वारा आज जारी किए गए ग्लोबल-स्टेट ऑफ स्मोकिंग पोल ( https://www.smokefreeworld.org/global-state-of-smoking-poll-2019/ ) (हाइपरलिंक) के अनुसार दुनिया भर में धूम्रपान करने वालों को एक गलतफहमी है कि ई-सिगरेट दहनशील सिगरेट जितनी ही या इससे अधिक हानिकारक है। सात सर्वेक्षण किए गए देशों में से चार में (यूनाइटेड स्टेट्स, यूनाइटेड किंगडम, दक्षिण अफ्रीका और नॉर्वे), वर्तमान धूम्रपान करने वालों में से आधे से अधिक ने इस धारणा की सूचना दी। शेष देशों (जापान, ग्रीस और भारत) में धूम्रपान करने वालों की एक महत्वपूर्ण आबादी (25-50 प्रतिशत) ने भी इस धारणा की सूचना दी।

फोटो – https://mma.prnewswire.com/media/1123126/Hindi_1_Infographic.jpg

फोटो – https://mma.prnewswire.com/media/1123127/Hindi_2_Infographic.jpg

फोटो – https://mma.prnewswire.com/media/1123128/Hindi_3_Infographic.jpg

फोटो - https://mma.prnewswire.com/media/1123129/Hindi_4_Infographic.jpg

FSFW के पिछले सर्वेक्षण के अनुसार, 2017 में औसतन 50 प्रतिशत धूम्रपान करने वालों का मानना था कि ई-सिगरेट दहनशील सिगरेट से कम हानिकारक हैं। नवीनतम सर्वेक्षण से पता चलता है कि इस धारणा को रखने वाले धूम्रपान करने वालों की संख्या यूनाइटेड स्टेट्स, यूनाइटेड किंगडम, दक्षिण अफ्रीका और जापान में 5-14 प्रतिशत कम हो गई है। भारत ने इस धारणा में 15 प्रतिशत वृद्धि का अनुभव किया कि ई-सिगरेट कम हानिकारक हैं, और एकमात्र ऐसा देश था जिसमें यह धारणा अधिक आम हो गई थी। (ग्रीस और नॉर्वे में धारणाएँ अपरिवर्तित थी जिनका पूर्व अध्ययन में सर्वेक्षण नहीं किया गया था)।

स्वास्थ्य जोखिमों पर भ्रम

कई उत्तरदाताओं में दहनशील सिगरेट के उपयोग और नुकसान कम करने वाले उत्पादों से संबंधित विशिष्ट स्वास्थ्य जोखिमों के बारे में जागरूकता का अभाव था। सात देशों में से छह में, सर्वेक्षण किए गए से आधे से अधिक ने तंबाकू से संबंधित कैंसर के प्राथमिक कारण के रूप में गलत तरीके से निकोटीन की पहचान की, (सातवें देश, ग्रीस में, 45 प्रतिशत को यह गलतफहमी थी)। निकोटीन लत का कारण बनता है-लेकिन ज्यादातर चिकित्सा शोधकर्ता इस बात से सहमत हैं कि यह एक कार्सिनोजेन नहीं है। दहनशील सिगरेटों में टार में प्राथमिक कार्सिनोजेन होते हैं।

यह धारणा कि कैंसर के कारण निकोटीन दक्षिण अफ्रीका (77 प्रतिशत), भारत (69 प्रतिशत) और यूनाइटेड स्टेट्स (57 प्रतिशत) के उत्तरदाताओं में सबसे आम था।

FSFW के अध्यक्ष डॉ. डेरेक याच ने कहा, "वैकल्पिक निकोटीन उत्पाद जैसे कि स्नस और इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट के दहनशील उत्पादों से काफी कम जोखिम होते हैं के बारे में सबूतों के बढ़ने के बावजूद सार्वजनिक धारणाएं विपरीत दिशा में बढ़ रही हैं।" "सनसनीखेज मीडिया कवरेज और तंबाकू नुकसान में कमी के विरोध में लक्षित प्रयास तथ्यों को बिगाड़ रहे हैं और दुनिया के कई अरब धूम्रपान करने वालों को उनके स्वास्थ्य के लिए बेहतर विकल्प चुनने से दूर रख रहे हैं।"

ग्लोबल स्टेट ऑफ स्मोकिंग पोल ने धूम्रपान की आदतों और 54,000 से अधिक वर्तमान और पूर्व तंबाकू और तंबाकू के नुकसान को कम करने वाले उपयोगकर्ताओं की धारणाओं का सर्वेक्षण किया। यह 17 जून से 19 अगस्त, 2019 के बीच यूनाइटेड स्टेट्स, यूनाइटेड किंगडम, भारत, जापान, नॉर्वे, ग्रीस और दक्षिण अफ्रीका में आयोजित किया गया था।

वैश्विक धूम्रपान करने वालों के इनकार जारी है

सर्वेक्षण में शामिल सभी देशों में, 75 प्रतिशत से अधिक वर्तमान धूम्रपान करने वालों का मानना था कि धूम्रपान उनके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। हालांकि, इन देशों में धूम्रपान करने वाले 49 प्रतिशत से अधिक लोगों ने सिगरेट के पैकेज पर चेतावनी लेबल नहीं पढ़ा। इनमें से पांच देशों (यूनाइटेड स्टेट्स, यूनाइटेड किंगडम, भारत, ग्रीस और दक्षिण अफ्रीका) में, धूम्रपान करने वालों में से एक तिहाई से अधिक ने महसूस किया कि स्वास्थ्य चेतावनी लेबल अतिरंजित हैं जिसमें 62 प्रतिशत भारतीय धूम्रपान करने वालों में यह धारणा है।

जबकि दुनिया के अधिकांश धूम्रपान करने वाले निम्न और मध्यम आय वाले देशों में रहते हैं, उच्च आय वाले देशों में धूम्रपान करने वाले लोग छोड़ने के प्रयास में सबसे अधिक सक्रिय थे। नॉर्वे (83 प्रतिशत), यूनाइटेड स्टेट्स (75 प्रतिशत) और यूनाइटेड किंगडम (72 प्रतिशत) जैसे देशों के धूम्रपान करने वालों ने छोड़ने का अत्यंत प्रयास किया था, जबकि भारत में कम (50 प्रतिशत), दक्षिण अफ्रीका (39 प्रतिशत), और ग्रीस (37 प्रतिशत) लोगों ने ऐसा प्रयास किया था। यह समझ होने के बावजूद कि धूम्रपान हानिकारक है, छह देशों में वर्तमान धूम्रपान करने वालों में से आधे से भी कम ने धूम्रपान छोड़ने की योजना बनाई थी। नॉर्वे में धूम्रपान करने वाले लोग अलग थे जिसमें 70 प्रतिशत से अधिक धूम्रपान करने वालों ने प्रयास करने की योजना बनाई थी।

छोड़ने का रास्ता अस्पष्ट है

वैश्विक स्तर पर धूम्रपान करने वाले छोड़ने के लिए कई तरह के दृष्टिकोण अपनाते हैं। बहुत कम धूम्रपान करने वालों ने निकोटीन एवज़ी थैरेपी (nicotine replacement therapies, NRT), जैसे कि पैच या लोज़ेंग, या वैकल्पिक जोखिम उत्पाद (alternative risk products, ARP), जैसे हीट-नॉट-बर्न उत्पाद का उपयोग करने का प्रयास किया है। छह देशों में 38 प्रतिशत से कम धूम्रपान करने वालों ने NRT आज़माई है और 25 प्रतिशत से कम ने इन देशों में ARP आज़माई है। नॉर्वे एकमात्र ऐसा देश था जिसके वर्तमान धूम्रपान करने वालों की एक बड़ी संख्या ने इन तरीकों (NRT के साथ 48 प्रतिशत, ARP के साथ 53 प्रतिशत) का प्रयास किया था। नॉर्वे में पूर्व दहनशील धूम्रपान करने वालों ने इन तरीकों का उपयोग करने के लिए सबसे बड़ी सफलता की सूचना दी (NRT के साथ 41 प्रतिशत, ARP के साथ 55 प्रतिशत)।

ग्लोबल स्टेट ऑफ स्मोकिंग पोल 2019 FSFW द्वारा 2017 में किए गए एक समान सर्वेक्षण ( https://www.smokefreeworld.org/health-science-technology/health-science-technology-agenda/data-analytics/global-poll-2017/ ) के अनुवर्तन के रूप में कार्य करता है और अंतर्राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण प्रयासों की सफलता के मूल्यांकन के लिए एक बेंचमार्क प्रदान करता है। यह सर्वेक्षण धूम्रपान करने वालों के अनुभव और चुनौतियों, उनकी आदतों और तंबाकू उत्पादों और वैकल्पिक निकोटीन वितरण प्रणालियों से जुड़े जोखिमों की उनकी धारणाओं की समझ भी प्रदान करता है।

The Foundation for a Smoke-Free World का परिचय

Foundation for a Smoke-Free World इस पीढ़ी में धूम्रपान समाप्त करके वैश्विक स्वास्थ्य को सुधारने के प्रयोजन से युक्त एक स्वतंत्र, अमेरिकी गैर-लाभकारी 501(c)(3)


संगठन है। फाउंडेशन अपने मिशन का समर्थन तीन मूल स्तंभों के माध्यम से करता है: स्वास्थ्य, विज्ञान, और प्रौद्योगिकी; कृषि रूपांतरण पहल; और उद्योग का रूपांतरण।

फाउंडेशन ने फिलिप मॉरिस इंटरनेशनल (Philip Morris International, PMI) से 2018 और 2019 में प्रत्येक वर्ष में 80 मिलियन अमेरिकी डॉलर की धनराशि के अंशदान प्राप्त किए हैं। PMI ने अगले दस वर्षों के लिए सालाना 80 मिलियन डॉलर का अंशदान देने का वचन दिया है। फाउंडेशन के उपनियमों


और वचन समझौते


के अंतर्गत, PMI और तंबाकू उद्योग को, सामान्य तौर पर, फाउंडेशन की अपनी निधियों को खर्च करने या अपनी गतिविधियों पर ध्यान देने के तरीकों पर कोई भी नियंत्रण या प्रभाव रखने से रोका गया है। फाउंडेशन द्वारा अंशदानों की स्वीकृति का अर्थ फाउंडेशन द्वारा वचनदाता के किसी भी उत्पाद का समर्थन करना नहीं है।

फाउंडेशन के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.smokefreeworld.org पर जाएं।

(संपादक : यह विज्ञप्ति आपको एशियानेट के साथ हुए समझौते के तहत प्रेषित की जा रही है। पीटीआई पर इसका कोई संपादकीय उत्तरदायित्व नहीं है।
संपर्क:
Nicole Bradley Vice President of Communications Nicole.Bradley@smokefreeworld.org स्रोत: फाउंडेशन फॉर ए स्मोक—फ्री वर्ल्ड
मीडिया संपर्क विवरण:
 Bookmark with:   Delicious |  Digg |  Reditt |  Newsvine
    • arrow  प्रेस विज्ञप्ति
  • pti