ईसीएलजीएस में संशोधन, कर्ज की सीमा 400 करोड़ से बढ़कर 1,500 करोड़ रुपये हुई

Updated: Oct 5 2022 7:10PM

नयी दिल्ली, पांच अक्टूबर (भाषा) वित्त मंत्रालय ने कोविड-19 महामारी से प्रभावित विमानन उद्योग को नकदी संकट से उबारने में मदद करने के लिए आपात ऋण सुविधा गारंटी योजना (ईसीएलजीएस) में संशोधन किया है।.

मंत्रालय ने इस योजना के तहत कर्ज की सीमा 400 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 1,500 करोड़ रुपये कर दिया है।.