उप्र : बैंकों से ई-कचरा इकट्ठा कर 10 फुट ऊंची प्रतिमा बनाई

उप्र : बैंकों से ई-कचरा इकट्ठा कर 10 फुट ऊंची प्रतिमा बनाई

लखनऊ, पांच फरवरी (भाषा) बैंकों में खराब पड़े 250 से अधिक कंप्यूटर और 200 ‘मदरबोर्ड’ आदि इकट्ठा कर जयपुर के एक कलाकार ने इनसे 10 फुट ऊंची प्रतिमा तैयार की है। इस प्रतिमा में 9,000 से अधिक ‘स्क्रू’ (पेंच), तार और 15,000 ‘रिवेट’ का भी उपयोग किया गया जिन्हें कबाड़ कंप्यूटरों से निकाला गया था।. ज्वाला ने जयपुर से फोन पर पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘ई कचरे से तैयार इस अद्भुत प्रतिमा को बनाने में कंप्यूटर के विभिन्न पुर्जों का उपयोग किया गया। इसकी ऊंचाई 10 फुट है और मंच सहित यह 15 फुट ऊंची प्रतिमा है। यदि हम वास्तविक ऊंचाई की बात करें (यदि प्रतिमा खड़ी हुई मुद्रा में होती) तो यह 25 फुट की होगी। इसे बनाने में 250 से अधिक कंप्यूटर से निकले कबाड़ का उपयोग किया गया है।’’. भाषा अभिनव राजेंद्र.

नालंदा में मिलीं 1200 साल पुरानी मूर्तियां, एएसआई ने कब्जे में लेने की मांग की

नालंदा में मिलीं 1200 साल पुरानी मूर्तियां, एएसआई ने कब्जे में लेने की मांग की

पटना, तीन फरवरी (भाषा) प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के पास एक तालाब से गाद निकालने के दौरान करीब 1200 साल पुरानी पत्थर की दो मूर्तियां मिली हैं। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।. हालांकि, भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण या प्रशासन द्वारा दोनों मूर्तियों का विवरण नहीं दिया गया था पर उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘वहां तैनात हमारे अधिकारियों को इसके बारे में पता चला और उन्होंने तुरंत स्थानीय पुलिस को इसकी सूचना दी है।’’. भट्टाचार्य ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘हम उन्हें नालंदा संग्रहालय में प्रदर्शित करना चाहते हैं। मैंने राज्य सरकार से भारतीय ट्रेजर ट्रोव अधिनियम, 1878 के प्रावधानों के अनुसार इन मूर्तियों को तुरंत सौंपने का अनुरोध किया है।’’. इस खोज के बारे में पूछे जाने पर नालंदा के जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘मुझे इसके बारे में पता चला है और मामले की जांच की जा रही है।’’. भाषा अनवर.

आम चुनाव से पहले आम बजट में आयकर मोर्चे पर राहत; बुजुर्गों, महिलाओं को भी सौगात

नयी दिल्ली, एक फरवरी (भाषा) अगले साल होने वाले आम चुनाव से पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को पेश नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के अंतिम पूर्ण बजट में सभी तबकों को साधने का प्रयास किया। उन्होंने जहां एक तरफ मध्यम वर्ग और नौकरीपेशा लोगों को आयकर मोर्चे पर राहत देने की घोषणा की, वहीं लघु बचत योजनाओं के तहत निवेश सीमा बढ़ाकर बुजुर्गों, पेंशनभोगियों और नई बचत योजना के जरिये महिलाओं को भी सौगात दी है। इसके साथ ही बुनियादी ढांचे पर खर्च में 33 प्रतिशत की बड़ी वृद्धि करने का भी प्रस्ताव किया है।. भाषा.