किट को "राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार २०२२" से सम्मानित किया गया

01 Dec 2022 | KIIT

भुवनेश्वर, भारत, 1 दिसंबर, 2022 /PRNewswire/ -- भारत सरकार के खेल एवं युवा मामले मंत्रालय ने किट को इस वर्ष का राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार प्रदान किया है। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने बुधवार को राष्ट्रपति  भवन में आयोजित समारोह में यह पुरस्कार प्रदान किया। इस अवसर पर किट और किस के संस्थापक अच्युत सामंत ने राष्ट्रपति से पुरस्कार प्राप्त किया। केंद्रीय खेल मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार राज्य और राष्ट्रीय स्तर के खेल संस्थानों सहित कॉरपोरेट्स, विभन्न खेल नियंत्रण बोर्डों, गैर सरकारी संगठनों को दिया जाता है, जिन्होंने खेलों के विकास और प्रचार में उत्कृष्ट कार्य किया है।. श्री सामंत ने अपनी प्रसन्नता व्यक्त करने के  साथ  अतीत  को याद करते हुए कहा कि आज का राष्ट्रीय पुरस्कार किट की स्थापना के बाद से खेलों की दिशा में उठाया गया एक बड़ा कदम है। हम शिक्षा, खेल और खेल के बुनियादी ढांचे को मजबूत कर रहे हैं। जैसा कि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने खेलों को प्रोत्साहन दिया है, किट को  भी इससे काफी प्रोत्साहन मिला है और वह इस खेल को और आगे ले जाने का प्रयास कर रहे हैं। श्री सामंत ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह पुरस्कार किट के लिए गर्व और खुशी की बात है और उन्होंने इस पुरस्कार को किट के  छात्रों और कर्मचारियों को समर्पित किया। गौरतलब है कि किट पिछले 20 साल से अधिक समय से खेल और खिलाडिय़ों को बढ़ावा दे रही है। जिससे  ओलंपियन दुती चांद, शिवपाल सिंह, अमित रोहिदास और  भवानी देवी जैसे अंतरराष्ट्रीय एथलीट बनाए गए हैं। नवीनतम और खेल के दिशा में  सबसे बड़े बुनियादी ढांचे से लेकर ओलंपियन बनाने तक, किट ने दुनिया  भर में अपना नाम कमाया  है। केंद्रीय खेल मंत्रालय द्वारा आज किट को राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार दिए जाने पर किट के सभी छात्रों, खिलाड़ियों और कमर्चारियों ने प्रसन्नता व्यक्त की है।...

General

स्वयंसेवा की शक्ति: एजुकेट गर्ल्स के 18,000 से अधिक स्वयंसेवकों ने 2007 से 12 लाख लड़कियों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित किया

30 Nov 2022 | Educate Girls

एजुकेट गर्ल्स के स्वयंसेवकों का कमाल:  18,000 से ज्यादा स्वयंसेवकों ने 15 सालों में 12 लाख लड़कियों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित किया. मुंबई, भारत, 30 नवंबर, 2022 /PRNewswire/ --  ग्रामीण भारत में लड़कियों की शिक्षा के लिए काम करने वाली गैर-लाभकारी संस्था एजुकेट गर्ल्स इस दिसंबर अपनी 15वीं वर्षगांठ मना रही है। संस्था 2007 से भारत के ग्रामीण और शैक्षिक रूप से पिछड़े इलाकों में स्थायी परिवर्तन लाने के लिए बालिका शिक्षा के क्षेत्र में कार्य कर रही है। इस मिशन में संस्था का साथ 18,000 से भी अधिक युवा टीम बालिका (स्वयंसेवक) दे रहे हैं।...

General

Disclaimer : PTI takes no editorial responsibility for press releases.